मुक्त्सङ्गोऽनहंवादी

Subhashita

मुक्त्सङ्गोऽनहंवादी धृत्युत्साहसमन्वितः
सिद्धयसिद्धयोर्निर्विकारः कर्ता सात्त्विक उच्यते

Hindi meaning

जो कर्ता रागरहित, कर्तृत्वाभिमानसे रहित, धैर्य और उत्साहयुक्त तथा सिद्धि और असिद्धिमें निर्विकार है, वह सात्त्विक कहा जाता है।

Source

Gita 18, 26